Latest: घोटालों की भेंट चढ़ गये विकास के काम : मोदी |

Latest: घोटालों की भेंट चढ़ गये विकास के काम : मोदी |

पटना : बिहार में विधानसभा चुनाव करीब हैं और पिछले 15 दिनों में मोदी ने तीसरी बार वर्चुअल रैली करके विकास योजनाओं का तोहफा दिया। बिहार में बढ़ती चुनावी हलचल के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बिहार वर्चुअल रैली करके 541 करोड़ की योजनाओं की घोषणाएं की। इस दौरान पीएम ने लालू-राबड़ी शासन के 15 सालों के भ्रष्टाचार की भी चर्चा की। प्रधानमंत्री ने कहा कि आजादी के बाद के शुरुआत में बिहार को बड़े और दूरदर्शी नेताओं का नेतृत्व मिला। लेकिन इसके बाद एक दौर ऐसा भी आया जब बिहार में मूलभूत सुविधाओं के निर्माण और लोगों को आधुनिक सुविधाएं देने के बजाए, प्राथमिकता बदल गई। इसका परिणाम यह हुआ कि बिहार के गांव और ज्यादा पिछड़ते गए और समृद्धि के प्रतीक रहे शहर बढती आबादी और बदलते समय के हिसाब से आधुनिक नहीं हो पाये। सड़क,पानी जैसी समस्याओं को या तो नजरअंदाज कर दिया गया या फिर उनसे जुड़े काम घोटालों की भेंट चढ़ गए। जब भी इनके काम हुए घोटालों की भेट चढ़ गए। जब शासन पर स्वार्थ नीति हावी हो जाती है, तो वोट बैंक का तंत्र पूरी प्रणाली को दबाने लगता है और इसका सबसे ज्यादा असर समाज के प्रताड़ित, वंचित और शोषित वर्ग पर पड़ता है।

इन योजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास

पटना में 152 करोड़ से बनी पटना के बेउर और करमलीचक सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का उद्घाटन
41 करोड़ की सीवान जलापूर्ति योजना का उद्घाटन
32 करोड़ की बक्सर जलापूर्ति योजना का उद्घाटन
52 करोड़ की लागत से छपरा में जलापूर्ति योजना का शुभारंभ
198 करोड़ की मुंगेर जलापूर्ति और 59 करोड़ की जमालपुर जलापूर्ति योजना
11 करोड़ के व्यय से मुजफ्फरपुर में रिवर फ्रंट डेवलपमेंट कार्यक्रम के शिलान्यास किया

Source link

Follow and like us:
0
20

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here